मोहब्बत shayri

खींच लेती है मुझे उसकी मोहब्बत;
वरना मै बहुत बार मिला हूँ आखरी बार उससे!


 

हर कोई परख लेता है हर किसी को..
कुछ कह कर रिश्ते तोड़ देते हैं
कुछ चुप रह कर रिश्ते निभाते रहते हैं..!


 

दाद देते हैं तुम्हारे नज़रअंदाज़ करने के हुनर को,
जिसने भी सिखाया, उस्ताद कमाल का था


kurti

?? “क्या कशिश थी उस की आँखों में मत पूछो,
.मुझ से मेरा दिल लड़ पड़ा मुझे यह शख्स चाहिए!” ??


 

वो पसंद ही क्या ……जिसको पसंद आने के लिए खुद को बदलना पड़े….


टूटती सांसों के साज़
रात की तन्हाई में सुनाई देते हैं
दिल के धड़कने की आवाज़
जब कोई सुनने वाला नहीं होता


smiley-next

Today offer


saree1sareefarnishing

footwear

mobile




  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *